आलूबुखारे और बाँस की डिज़ाइन की जालीदार नक्काशी वाली काँस्य कन्डील

काँसे की यह "तोरो" कन्डील का निर्माण 16वीं शताब्दी में हुआ था। असाधारण कारीगरी से केवल एक ही बार साँचे में डालकर तैयार की गयी इस कन्डील पर आलूबुखारे और बाँस की डिज़ाइन की पारम्परिक जापानी जालीदार नक्काशी की गयी है। कार्यक्रम में बताएँगे इस उत्कृष्ट कंडील के बारे में जिसे उस ज़माने के प्रसिद्ध तेन्म्यो ढलाईखाने की कलाकृति माना जाता है।