6 मार्च का अंक
आइताइ परियोजना का हिस्सा बनीं प्रियंका पाराशर के साथ अंतरंग वार्ता के साथ होंगे श्रोताओं के पत्रों के उत्तर। (28 फ़रवरी के अंक का पुनर्प्रसारण)
आइताइ परियोजना के अंतर्गत प्रियंका पाराशर के स्वर में जापानी गीत नीचे दिए गए लिंक पर उपलब्ध है। (यह वेबसाइट केवल जापानी भाषा में है)
जापान में बसंत की दस्तक देते आलूबुख़ारे यानि "उमे" के फूल