13 दिसम्बर का अंक
एनएचके वर्ल्ड-जापान की हिन्दी सेवा के श्रोता कृष्ण चंद्र पाल और उनकी सुपुत्री प्रत्यंचा के साथ अंतरंग वार्ता के साथ होंगे श्रोताओं के पत्रों के उत्तर। (29 नवम्बर के अंक का पुनर्प्रसारण)