माकि-ए लाख और मुक्तागार के जड़ाऊ काम से पानी में बहते पहियों के चित्र वाला तेबाको (शृंगार पेटी)
इस बार बताएँगे 12वीं शताब्दी में बनायी गई लाख की एक शृंगार पेटी के बारे में जिस पर सोने के चूरे से मुक्तागार रूपी पानी में बहते पहियों की चित्रकारी की गयी है। यह कलाकृति हेइआन संवत् में तेज़ी से विकसित हो रही लाख की माकि-ए कारीगरी का उत्कृष्ट नमूना है।
माकि-ए लाख और मुक्तागार के जड़ाऊ काम से पानी में बहते पहियों के चित्र वाला तेबाको (शृंगार पेटी)
ढक्कन
ढक्कन का भीतरी भाग