शहर में बड़ा भूकम्प आने पर क्या करें?
क्या आपने कभी सोचा है कि जब अपने घर से आप कहीं दूर हों और शक्तिशाली भूकम्प आये तो अपनी रक्षा आप कैसे कर सकते हैं? अमरीका में जन्में बॉबी इसका उत्तर जानने के लिए तोक्यो में आपदा रोकथाम अनुभव शिक्षण प्रतिष्ठान "सोना एरिया तोक्यो" पहुँचते हैं। वहाँ पर वह एक बड़े शहर में आये 7.3 की तीव्रता के भूकंप में पलायन का "अनुभव" करते हैं और साथ ही भूकंप के बाद के आरंभिक 72 घंटों में सुरक्षित बचने के गुर को सीखते हैं।
इस प्रतिष्ठान में, एक बड़े भूकंप के कारण ढह चुके शहर की इमारतों का दृश्य जीवंत रूप में पूर्ण आकार में पुन: उत्पन्न होता है , जिसमें ध्वनि और प्रकाश द्वारा आग और पश्चातवर्ती झटकों की लहरों की अनुभूति होती है, ताकि आप आपदा क्षेत्र से निकासी का वास्तविक अनुभव कर सकें।
"तोक्यो भूकंप 72 घंटों की यात्रा" में प्रतिभागी एक टैबलेट उपकरण पर संबंधित ख़तरों और सावधानी पर प्रश्नों के उत्तर देते हुए निकासी क्षेत्री की ओर बढ़ते हैं।
सोना एरिया तोक्यो की उपनिदेशक सावा योशिहिरो (दाँए) बताते हैं कि भूकंप की स्थिति में जापान में अधिकारी बड़े शहरों में श्रमिकों को तीन दिनों के लिए अपने कार्यस्थल पर ही रहने के लिए कहते हैं।