14 मिनट 00 सेकंड

बारबेल के बिना जीवन अधूरा

कर्मक्षेत्र जापान

प्रसारण तिथि 21 अप्रैल 2021 उपलब्ध होगा 12 मई 2022

"कर्मक्षेत्र जापान" कार्यक्रम लाता है जापान को कर्मभूमि बनाने वाले विदेशी कर्मियों के जीवन की एक झलक। कार्यक्रम के इस अंक में मुलाक़ात करेंगे यूनान के एक व्यक्ति से जो भारोत्तोलन उपकरणों की निर्माता कंपनी में कारखाना-प्रबंधक हैं।

photo
37 वर्षीय अनास्तासिओस पाप्पास यूनानी हैं और वर्ष 2010 से तोक्यो के सुमिदा इलाके में एक बारबेल कारखाने में कार्यरत हैं।
photo
60 किलोग्राम का बारबेल उठाते अनास्तासिओस। दरअसल वह भूतपूर्व भारोत्तोलक हैं। वर्ष 2003 की यूनानी राष्ट्रीय प्रतियोगिता में वे दूसरे स्थान पर रहे थे।
photo
कंपनी के मालिक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी उएसाका तादामासा। काम के सिलसिले में यूनान दौरे के दौरान उनकी मुलाक़ात अनास्तासिओस से हुई जो भारोत्तोलन खेलों के आयोजन में स्वयंसेवी के रूप में काम कर रहे थे। दोनों जल्द ही अच्छे दोस्त बन गये।
photo
विश्व भर से उन्हें बारबेल के ऑर्डर मिलते हैं। अपने दल के कौशल और अनुभव से बनाये गए उत्पादों की गुणवत्ता पर अनास्तासिओस को विश्वास और गर्व है।

कार्यक्रम की रूपरेखा