13 मिनट 50 सेकंड

फूलों और पक्षियों के चित्र वाला बड़ा डोंगा (काकिएमोन ढंग से बना हुआ इमारि शैली का मिट्टी का बर्तन) (Iroe kachoumon o-fukabachi)

जापान की उत्कृष्ट कलाकृतियों की कहानी

प्रसारण तिथि 6 फ़रवरी 2018 उपलब्ध होगा 31 मार्च 2029

सफ़ेद सतह पर चमकीले रंगों के फूलों और पक्षियों के चित्र वाला यह डोंगा काकिएमोन ढंग से बना इमारि शैली का चीनी मिट्टी का बर्तन है। 17वीं और 18वीं सदी में इमारि बन्दरगाह से विदेशों को निर्यात होने वाले विभिन्न प्रकार के मिट्टी के बर्तनों को इमारि बर्तनों के नाम से जाना जाता है। जापान में चीनी मिट्टी के बर्तनों का उत्पादन तब शुरू हुआ जब जापानी शासक तोयोतोमि हिदेयोशि ने कोरिया पर हमला किया और उसकी सेना वहाँ के कुछ कोरियाई कुम्हारों को जापान ले आई। उन कुम्हारों को जापान के क्यूशू में काओलिन पत्थर मिल गया जिससे चीनी मिट्टी के बर्तन बनाए जाते हैं। उस समय चीन में साम्राज्य बदल रहा था। वहाँ की उथल-पुथल के कारण जापान में चीनी मिट्टी के बर्तनों के नवजात उद्योग को उड़ान भरने का अवसर मिला। एक तरफ़ तो बहुत सारे चीनी कुम्हारों के जापान भाग आने की वजह से जापान के कुम्हार मिट्टी के बर्तनों में रंग भरने की कला सीख सके और दूसरी तरफ़ चीन की राजनीतिक अशान्ति के कारण वहाँ से मिट्टी के बर्तनों का निर्यात बन्द हो गया। हॉलैंड के व्यापारी, जिनका उन दिनों एशियाई व्यापार पर दबदबा था, चीन की जगह जापान के मिट्टी के बर्तनों का विदेशों को निर्यात करने लगे। इस उत्कृष्ट कलाकृति का जन्म ऐतिहासिक वैश्विक उतार-चढ़ावों के युग में हुआ था।

photo

कार्यक्रम की रूपरेखा