12 मिनट 19 सेकंड

दार्यूक्यो - देवी-देवताओं और ड्रैगन की डिज़ाइन वाला काँस्य दर्पण (Daryukyo)

जापान की उत्कृष्ट कलाकृतियों की कहानी

प्रसारण तिथि 12 अक्तूबर 2017 उपलब्ध होगा 31 मार्च 2029

इस अंक में हमने चौथी शताब्दी में बनाए गए एक काँस्य दर्पण के बारे में बताया है। दर्पणों में हमारी छवि प्रतिबिम्बित करने या आग जलाने की क्षमता है इसलिए प्राचीन काल में इन्हें पवित्र माना जाता था। चीन से जापानी द्वीपों में आयातित बहुत सारे दर्पण प्रभुत्व के प्रतीक चिह्न बन गए। उन्हें शक्तिशाली लोगों की समाधियों में अंत्येष्टि की अन्य सामग्री के साथ दबा दिया जाता था। इस अंक में जिस दर्पण की चर्चा की गई है, वह एक समाधि स्तूप की खुदाई में निकला था। इसे चीनी दर्पण का अनुसरण करके जापानी द्वीप समूह पर बनाया गया था। 44.5 सेंटीमीटर व्यास वाला यह दर्पण पूर्वी एशिया के आम दर्पणों की तुलना में बड़ा है और बहुत कुशलता से बनाया गया है। यह जिन दर्पणों पर आधारित है उनसे पता चलता था कि चीनी लोगों के मन में दिव्य लोक की किस तरह की छवि थी। लेकिन जापानी शिल्पकारों को उन चिह्नों की समझ नहीं थी इसलिए उन्होंने चीनी डिज़ाइन को अपनी अनूठी शैली में बदल दिया। यह कलाकृति प्राचीन पूर्वी एशिया में सांस्कृतिक प्रसार के इतिहास पर प्रकाश डालती है।

photo

कार्यक्रम की रूपरेखा