13 मिनट 12 सेकंड

सेश्शु द्वारा स्याही छलका कर बनाया प्राकृतिक चित्र (Haboku Sansuizu)

जापान की उत्कृष्ट कलाकृतियों की कहानी

प्रसारण तिथि 14 अप्रैल 2016 उपलब्ध होगा 31 मार्च 2029

स्याही से चित्रित लैंडस्केप नामक इस प्राकृतिक चित्र को, 15वीं सदी के जापान के प्रतिनिधि कलाकारों में से एक, सेश्शु ने बनाया था। सच तो ये है कि कुंडलित पत्रिका के केवल निचले हिस्से में ही ये चित्र बनाया गया है। बाकी के लगभग दो तिहाई हिस्से में लिखाई है। छह पुजारियों ने सबसे ऊपर कविताएँ लिखीं है और सेश्शु ने मध्य भाग में खुद अपने हाथों से चीन यात्रा के अनुभवों और वहाँ के दरबारी कलाकारों के तहत अध्ययन तथा अपने गुरुओं के प्रति भावनाओं के बारे में लिखा है। इस कृति को बनाने तक के सेश्शु के कदमों को खोजते हुए चलें, तो हम रूबरू होते है एक ऐसे युग से जिसमें ज़ेन पुजारियों की महत्वपूर्ण सांस्कृतिक भूमिका थी। ज़ेन मंदिरों में स्याही चित्रकारी की कला फलीफूली। ज़ेन मंदिरों में संपूर्ण दैनिक जीवन को ही धार्मिक पद्धति माना जाता था। सेश्शु भी एक ज़ेन पुजारी थे और जिन कवियों ने चित्र पर कविताएँ लिखीं, वो सभी उस ज़माने के उच्च कोटि के प्रसिद्ध पुजारी थे। यह कृति इस बात का सबूत है कि उस दौर में ज़ेन पुजारियों के बीच श्रेष्ठ बौद्धिक आदान-प्रदान होते थे।

photo

कार्यक्रम की रूपरेखा