जापानी फ़ुटबॉल कोच - टीम का धैर्य है जीत की कुंजी

जापान की राष्ट्रीय फ़ुटबॉल टीम के कोच मोरियासु हाजिमे का कहना है कि उनकी टीम ने हार न मानने की इच्छाशक्ति से जर्मनी को हराया।

मोरियासु ने बुधवार को फ़ुटबॉल विश्व कप में जापान को अपने पहले मुकाबले में मिली शानदार जीत के बाद संवाददाताओं से बात की। इस मुकाबले में जापान ने चार बार के चैंपियन रह चुके जर्मनी को दूसरे हाफ़ में 2 गोल करके 2-1 से हराया।

मोरियासु ने कहा कि उनकी टीम खेल की तैयारी में पूरी तरह से जुट गयी थी।

उन्होंने कहा कि पाँच सबस्टिट्यूट खिलाड़ियों ने मैच पलट दिया। आसानो ताकुमा को 57वें मिनट पर और दोआन रित्सु को उसके 14 मिनट बाद मैदान में लाया गया जिन्होंने एक-एक गोल दाग कर जापान की जीत तय की।

लेकिन साथ ही कोच मोरियासु ने सावधान किया कि यह तो उनकी टीम की पहली जीत ही है।

उन्होंने कहा कि वह जर्मनी को हराने की खुशी में डूबे बिना ग्रुप ई के आगामी मैच जीतने के लिए संकल्पित हैं। जापान का अगला मैच रविवार को कोस्टा-रिका से होगा।