उक्रेन युद्ध के लंबा खिंचने की आशंका

उक्रेन पर रूसी आक्रमण को बृहस्पतिवार को 9 महीने पूरे हो जाने के बाद चिंता बढ़ती जा रही है कि यह संघर्ष और भी लंबा खिंचने वाला है।

जहाँ एक ओर उक्रेन अपने ज़्यादा-से-ज़्यादा क्षेत्रों पर दुबारा नियंत्रण हासिल करना चाहता है, वहीं रूसी सेना ने उक्रेन के बुनियादी ढाँचों पर मिसाइल और ड्रोन हमलों की झड़ी लगा रखी है।

उक्रेनी अधिकारियों के अनुसार बुधवार को हुए हमलों में 10 लोग मारे गये और 36 घायल हो गये।

उक्रेन की सरकारी ऊर्जा कंपनी उक्रेनेर्गो ने बुधवार को सभी क्षेत्रों में 24 घंटे बिजली गुल रहने की घोषणा की।

राष्ट्रपति वोलोदिमीर ज़ेलेंस्की ने बुधवार को कहा कि रूस, उक्रेन के बुनियादी ढाँचों, ऊर्जा प्रतिष्ठानों और नागरिकों को निशाना बना रहा है।

अपने वीडियो संदेश में उन्होंने यह भी कहा कि उक्रेन कड़ी टक्कर देते रहने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि “हम सब कुछ फिर से बनायेंगे और इस मुश्किल घड़ी को पार करेंगे, क्योंकि हम लोग कभी हार नहीं मानते।”