उ.कोरिया ने मिसाइल प्रक्षेपण टिप्पणी पर की किशिदा की आलोचना

उत्तर कोरिया के विदेश मंत्रालय ने देश द्वारा बार-बार किये गए मिसाइल प्रक्षेपणों की निंदा करने के लिए जापान के प्रधानमंत्री किशिदा फ़ुमिओ की आलोचना की है।

उत्तर कोरियाई विदेश मंत्रालय से संबद्ध विचार मंच, जापान अध्ययन संस्थान, के प्रमुख ने शनिवार को एक वक्तव्य जारी कर कहा कि किशिदा की टिप्पणी, उत्तर कोरिया की प्रतिष्ठा को धूमिल करने का मूर्खतापूर्ण प्रयास है।

दक्षिणपूर्व एशिया में हाल की बैठकों में किशिदा ने कहा था कि प्योंगयांग अभूतपूर्व गति से मिसाइलें दाग़ रहा है।

किशिदा ने रेखांकित किया कि उत्तर कोरिया के मिसाइल प्रक्षेपण अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए एक स्पष्ट और गंभीर चुनौती हैं, जिन्हें नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता।

उत्तर कोरिया ने अपने वक्तव्य में इन प्रक्षेपणों को देश की रक्षा क्षमता मज़बूत करने के उपाय क़रार देते हुए उन्हें सही ठहराया।

उत्तर कोरिया ने इस साल सितंबर और अक्तूबर में आयोजित जापान, अमरीका और दक्षिण कोरिया के संयुक्त सैन्याभ्यास की ओर इशारा किया।

उसने कथित रूप से उत्तर कोरिया से निपटने के उद्देश्य से किये गए सैन्याभ्यास में भाग लेने और अंतरराष्ट्रीय बैठकों में देश पर दबाव बनाने की कोशिश करने के लिए जापान की आलोचना की।