ब्रिटेन में शुक्रवार को आरंभ होगा जी7 शिखर सम्मेलन

विश्व की सात प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं के समूह यानि जी7 का शिखर सम्मेलन ब्रिटेन की सुदूर दक्षिणपश्चिमी काउंटी कॉर्नवॉल में स्थानीय समयानुसार शुक्रवार से आरंभ होगा। दो वर्षों में यह पहली जी7 शिखर बैठक होगी जिसमें नेता व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होंगे।

जी7 के नेता इस बात पर चर्चा करेंगे कि दुनिया भर में कोविड-19 वैश्विक महामारी को नियंत्रण में लाने के लिए कोरोनावायरस टीकों का निष्पक्ष वितरण कैसे किया जाए।

नेता जलवायु परिवर्तन पर भी चर्चा करेंगे। कॉप 26 के नाम से जाने जाने वाले संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन का आयोजन इस शरद् ऋतु में ब्रिटेन में होगा।

अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडन इस शिखर बैठक में पहली बार भाग लेंगे। उनके पूर्ववर्ती राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प द्वारा "अमरीका प्रथम" की नीति पर ज़ोर दिये जाने के कारण समूह में मतभेद के संकेत दिख रहे थे।

अमरीका के साथ समानांतर मूल्य साझा करने वाले देशों के साथ सहयोग बढ़ा कर बाइडन अन्य नेताओं के साथ एकजुटता बहाल करना चाहते हैं।

अमरीका सरकार का कहना है कि बाइडन और अन्य नेता चीन की बेल्ट एण्ड रोड पहल के प्रत्युत्तर में विकासशील देशों को अधोसंरचना वित्तपोषण उपलब्ध करवाने के लिए एक नयी योजना की घोषणा कर सकते हैं।

तीन दिवसीय शिखर सम्मेलन रविवार को समाप्त होगा। नेताओं द्वारा एक संयुक्त घोषणापत्र जारी किया जाना नियोजित है।