वैश्विक स्टिंग ऑपरेशन में हुई 800 गिरफ़्तारियाँ

दुनिया-भर के पुलिस अधिकारियों ने गुप्त रूप से विकसित संचार ऐप का उपयोग कर एक समन्वित वैश्विक स्टिंग ऑपरेशन में 800 संदिग्धों को गिरफ़्तार किया है।

अमरीकी संघीय अन्वेषण ब्यूरो यानि एफ़बीआई सहित अन्य संगठनों ने मंगलवार को कहा कि 700 ठिकानों पर छापा मार कर ये गिरफ़्तारियाँ की गयीं।

अधिकारियों ने बताया कि इस कार्रवाई में एफ़बीआई और अन्य द्वारा गुप्त रूप से विकसित एक संदेश ऐप का इस्तेमाल किया गया था।

100 से अधिक देशों में गिरोहों और नशीली दवाओं के तस्करों सहित 300 से अधिक आपराधिक गुटों ने अनजाने में इस ऐप का इस्तेमाल किया, जिसमें एन्क्रिप्टेड यानि कूटबद्ध संदेशों का आदान-प्रदान किया जा सकता है।

क़ानून प्रवर्तन अधिकारियों ने उक्त ऐप पर भेजे गये 2 करोड़ 70 लाख संदेशों की जाँच की। इस माह की शुरुआत से ही अधिकारियों ने 700 ठिकानों पर छापेमारी कर 800 लोगों को गिरफ़्तार किया है।

अमरीका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और कुछ यूरोपीय देशों सहित 10 से अधिक देशों के अधिकारियों ने ट्रोजन शील्ड नामक इस कार्रवाई में भाग लिया।