जापान में क़ब्रिस्तानों के लिए याचिका दायर करेगा मुस्लिम समूह

एनएचके को ज्ञात हुआ है कि जापान में एक मुस्लिम समूह सरकार से मुसलमानों के लिए क़ब्रिस्तान की माँग करने हेतु एक याचिका दायर करने की योजना बना रहा है।

दक्षिण-पश्चिमी जापान में ओइता प्रिफ़ैक्चर के बेप्पू शहर स्थित इस समूह का लक्ष्य मुसलमानों के लिए क़ब्रिस्तान की कमी को दूर करना है। इस्लाम में दाह संस्कार की अनुमति नहीं है, जो जापान में एक व्यापक प्रथा है।

समूह ने तीन साल पहले निकटवर्ती हिजि नगर में ज़मीन का एक टुकड़ा ख़रीद कर उसे क़ब्रिस्तान बनाने के लिए नगर की अनुमति प्राप्त करने का प्रयास किया था। लेकिन स्थानीय लोगों के विरोध के चलते यह योजना स्थगित पड़ी है।

क्यूशू और ओकिनावा क्षेत्रों में रहने वाले मुसलमानों की ओर से समूह ने 17 जून को तोक्यो में स्वास्थ्य, श्रम एवं कल्याण मंत्रालय का दरवाज़ा खटखटाने की योजना बनायी है।

याचिका में सरकार से प्रत्येक प्रिफ़ैक्चर में मुसलमानों के लिए कम से कम एक सार्वजनिक क़ब्रिस्तान बनाने या मौजूदा सार्वजनिक समाधि स्थलों का एक हिस्सा मुसलमानों को दफ़नाने के लिए आवंटित करने का आग्रह किया जाएगा।

जापानी नागरिकता प्राप्त समूह के नेता ख़ान मुहम्मद ताहिर अब्बास का कहना है कि जापान में विदेशी निवासियों की संख्या बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि ऐसे क़ब्रिस्तानों की कमी एक गंभीर समस्या है जो उनकी सांस्कृतिक और धार्मिक आवश्यकताएँ पूरी करते हों।