चिप उद्योग को बढ़ावा देने हेतु जापान की नयी रणनीति

जापान सरकार ने देश के अर्धचालक उद्योग को बल देने के लिए नयी रणनीति अपनायी है। इस योजना के तहत चिप और अन्य डिजिटल क्षेत्रों का आधार मज़बूत करने के लिए राष्ट्रीय परियोजना तैयार की जाएगी।

उद्योग मंत्रालय ने बताया कि अमरीका और चीन के बढ़ते टकराव को देखते हुए देश की आर्थिक सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए यह रणनीति आवश्यक है।

उद्योग मंत्री काजियामा हिरोशि ने कहा, “हम भूराजनैतिक बदलावों को देखते हुए बड़े स्तर पर नीति परिवर्तन कर रहे हैं। आधुनिक अर्धचालक पर्यावरण-अनुकूल, डिजिटल और वाहन उद्योगों के लिए महत्त्वपूर्ण हैं।”

नयी नीति के तहत प्रमुख विदेशी अर्धचालक विनिर्माताओं के साथ संयुक्त कारखाने स्थापित किये जाएँगे। इसका लक्ष्य जापान में विनिर्माण केन्द्रों की स्थापना और अगली-पीढ़ी की उत्पादन तकनीकों को देश में विकसित करना है।

वैश्विक चिप बाज़ार में जापानी चिप निर्माता कंपनियों की वतर्मान हिस्सेदारी केवल 10 प्रतिशत की है। 30 वर्ष पहले यह आँकड़ा 50 प्रतिशत था।

जापान, स्मार्टफ़ोन व अन्य उपकरणों में उपयोग किये जाने वाले अत्याधुनिक अर्धचालकों के लिए विदेशी विनिर्माताओं पर निर्भर है।