जापान ने वियतनाम, मलेशिया के लिए प्रवेश नियम किये कड़े

जापान सरकार, वियतनाम और मलेशिया से देश में प्रवेश करने वाले लोगों के लिए छः दिवसीय स्वरोपित-संगरोध अवधि शुरू करने की योजना बना रही है।

वियतनाम के अधिकारियों द्वारा भारत और यूनाइटेड किंगडम में मिले प्रकारों की विशेषता वाले एक नये प्रकार की खोज की सूचना दिये जाने के बाद यह क़दम उठाया गया है। साथ ही, मलेशिया में कोरोनावायरस प्रकारों के मामलों में तेज़ी से वृद्धि भी जापान सरकार के उक्त निर्णय का एक कारण है।

सरकार, दोनों देशों के आगंतुकों को शासन द्वारा निर्धारित आवास पर ठहराने की योजना बना रही है।

कोरोनावायरस के भारत में मिले प्रकार के भारत और पाँच अन्य देशों में प्रसार के उपरान्त, इन देशों के आगंतुकों के लिए दो सप्ताह की संगरोध अवधि के पहले 10 दिन, इन आवासों में ठहरना पहले से ही अनिवार्य है।

जापान सरकार, दस-दिवसीय संगरोध सूची में अफ़ग़ानिस्तान से आने वाले लोगों समेत थाइलैण्ड तथा अमरीका के कुछ क्षेत्रों से जापान आ रहे आगंतुकों को भी इन आवासों में तीन दिन ठहराने की योजना बना रही है।

वहाँ ठहराये गए लोगों की वायरस जाँच नियमित रूप से की जाएगी। संक्रमण न पाये जाने की स्थिति में वे घर पर या कहीं और संगरोध में रह सकते हैं।

सरकार यह उपाय शुक्रवार को लागू करने की तैयारी कर रही है।