म्यांमार-जापान फ़ुटबॉल मुक़ाबले में विरोध प्रदर्शन

2022 फ़ुटबॉल वर्ल्ड कप के क्वालिफ़ायर मुक़ाबले में शुक्रवार को जापान ने म्यांमार को 10-0 से भारी शिकस्त दी। म्यांमार में फ़रवरी में हुए तख़्तापलट के बाद से देश के पहले अंतरराष्ट्रीय मुक़ाबले के दौरान मैदान के भीतर और बाहर, दोनों जगह, विरोध प्रदर्शन देखे गये।

म्यांमार के दल के कम से कम 10 खिलाड़ियों ने इस मुक़ाबले में हिस्सा लेने से मना कर दिया था। राष्ट्रगान के दौरान स्थानापन्न गोलची ने तीन उंगलियों की सलामी दी जिसका संबंध विरोध प्रदर्शनों से है।

कप्तान ज़ॉ मिन तुन मुक़ाबले का बहिष्कार करने वाले खिलाड़ियों में शामिल थे। एनएचके से बातचीत के दौरान इस प्रतिरक्षक खिलाड़ी ने बताया कि वह तख़्तापलट के विरोध में खड़े देश के फ़ुटबॉल प्रेमियों का सामना नहीं करना चाहता।

म्यांमार के फ़ुटबॉल संघ ने बताया कि देश का प्रतिनिधित्व करने से मना करने वाले खिलाड़ियों को स्थगन और सम्भावित प्रतिबन्धों का सामना करना होगा।

एक स्थानीय मानवाधिकार दल ने बताया कि तख़्तापलट के बाद से सैन्य कार्रवाई के चलते देशभर में 831 नागरिकों की मृत्यु हो चुकी है।