चिप की कमी से जापान के वाहन उत्पादन में बढ़ोतरी धीमी पड़ी

जापान की मुख्य वाहन निर्माता कंपनियों ने इस वर्ष अप्रैल माह में पिछले वर्ष की तुलना में वाहनों के अपने वैश्विक उत्पादन में वृद्धि दर्ज की। लेकिन कुछ कंपनियों में यह वृद्धि अर्धचालकों की अविरत कमी के कारण धीमी रही।

इन सभी आठ कंपनियों ने अप्रैल 2020 की तुलना में उत्पादन में वृद्धि दर्ज की। उस वक़्त कोरोनावायरस के कारण विश्वभर में वाहन कारखानों को बंद करना पड़ा था।

तोयोता ने बताया कि विदेश में क़रीब 4,90,000 वाहनों का उत्पादन हुआ जो अप्रैल माह का सर्वाधिक है।

होन्दा कंपनी के लिए चीन सबसे लाभकारी देश रहा। वहाँ क़रीब 1,70,000 वाहनों का उत्पादन हुआ जो अप्रैल माह का रिकॉर्ड आँकड़ा है।

कुल मिलाकर ये आँकड़े, अमरीका और चीन जैसे मुख्य बाज़ारों में बढ़ती माँग को दर्शाते हैं।

निस्सान उन कंपनियों में शामिल है जो वाहन के पुर्ज़ों में उपयोग की जाने वाली चिप की वैश्विक कमी से प्रभावित हैं। कंपनी ने साल-दर-साल के आधार पर चीन में अपने उत्पादन में सात महीनों में पहली बार गिरावट दर्ज की।

सुबारु का वैश्विक उत्पादन महामारी से पहले यानि अप्रैल 2019 की तुलना में काफ़ी कम रहा।