भारत में चक्रवाती तूफ़ान से 50,000 लोग हुए बेघर

भारत में चक्रवाती तूफ़ान यास के कारण मूसलाधार बारिश और ज्वार-भाटा से पूर्वी तट को भारी क्षति पहुँची है। स्थानीय अधिकारियों ने बताया कि कम से कम 50,000 लोगों ने अपना घर खो दिया है।

भारत के मौसम विभाग ने बताया कि यास बुधवार दुपहर के आसपास पूर्वी तट से टकराया और ओडिशा तथा पश्चिम बंगाल राज्यों से होते हुए आगे बढ़ गया।

उसके बाद से यास कमज़ोर पड़ गया है। हालाँकि, पश्चिम बंगाल में स्थानीय अधिकारियों ने बताया कि ज्वार की लहरों के कारण 100 से अधिक स्थानों पर तटबंध टूट गये और लगभग 1,100 गाँवों में बाढ़ आ गयी।

यास, चक्रवाती तूफ़ान ताउते के बाद भारत में एक सप्ताह के भीतर आया दूसरा तूफ़ान है। ताउते के कारण देश के पश्चिमी तट पर 150 से अधिक लोग मारे गये थे।

कोरोनावायरस संक्रमण की घातक दूसरी लहर से जूझ रहे भारत में एक साथ इन दोनों आपदाओं के आने से अस्पतालों और चिकित्सा कर्मियों पर दबाव बढ़ गया है।