द.सूडान में सं.रा. मिशन में जीएसडीएफ़ की तैनाती अवधि बढ़ी

जापान सरकार ने दक्षिण सूडान में संयुक्त राष्ट्र शांति बल में अपने थल आत्म-रक्षा बल यानि जीएसडीएफ़ के चार कर्मियों की तैनाती को एक और वर्ष के लिए बढ़ा दिया है।

शुक्रवार को आयोजित एक कैबिनेट बैठक में जीएसडीएफ़ कर्मियों की तैनाती को 31 मई 2022 तक बढ़ाने पर निर्णय लिया गया। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् द्वारा देश में शांति अभियान को अगले वर्ष 15 मार्च तक बढ़ाये जाने के बाद यह निर्णय लिया गया है।

इस नयी अवधि में संयुक्त राष्ट्र अभियान समाप्त होने के बाद कर्मियों द्वारा वापसी की तैयारी में लगने वाला समय भी शामिल है।

संयुक्त राष्ट्र शांति अभियान के तहत दक्षिण सूडान में जारी अभियान वर्तमान में जापान के आत्म-रक्षा बल की एकमात्र गतिविधि है।

2017 में जापान ने संयुक्त राष्ट्र शांति अभियान के तहत वर्ष 2012 से तैनात अपनी अभियांत्रिकी इकाई को वापस बुला लिया था। लेकिन सरकार ने इस मिशन के संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में 4 कर्मियों की तैनाती को जारी रखा है।

सरकार ने बताया कि दक्षिण सूडान के कुछ हिस्सों में लड़ाई की छुट-पुट घटनाएँ जारी हैं लेकिन राजधानी जुबा में हालात स्थिर हैं जहाँ संयुक्त राष्ट्र मिशन का मुख्यालय स्थित है।

सरकार ने जोड़ा कि उसे विश्वास है कि स्थानीय सुरक्षा की स्थिति जीएसडीएफ़ कर्मियों को शांतिबल के तौर पर भेजने के जापान के मानदंडों को पूरा करती है।