डब्ल्यूएचओ प्रमुख - भारत में कोविड-19 से निपटने हेतु सहायता जारी

विश्व स्वास्थ्य संगठन यानि डब्ल्यूएचओ के प्रमुख का कहना है कि भारत में कोरोनावायरस मामलों में वृद्धि से निपटने हेतु संगठन सतत् रूप से सहायता प्रदान कर रहा है।

डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस अधानोम घ्रेबायसिस ने सोमवार को एक नियमित प्रेस वार्ता में बताया कि संगठन भारत को चिकित्सकीय ऑक्सीजन उपकरण और चलते-फिरते अस्पताल उपलब्ध करा रहा है।

उन्होंने कहा कि डब्ल्यूएचओ उन रोगियों के लिए घरेलू देखभाल परामर्श सेवा भी प्रदान कर रहा है जिन्हें अस्पताल में भर्ती नहीं किया जा सकता।

टेड्रोस ने देशों से वायरस-रोधी उपाय करने का आह्वान दुहराते हुए कहा कि संक्रमण मामलों में दुबारा उछाल कहीं भी आ सकता है।

उन्होंने यह भी बताया कि डब्ल्यूएचओ के नेतृत्व वाली कौवेक्स टीका-साझाकरण व्यवस्था के माध्यम से दवा कंपनी मॉडर्ना के टीके की 50 करोड़ ख़ुराक प्रदान करने के लिए उसके साथ अनुबंध किया गया है।

भारत में निर्मित एस्ट्राज़ेनेका टीके की आपूर्ति बाधित हुई है। टेड्रोस ने कहा, "हमें टीकों की आपूर्ति में गंभीर बाधाओं का सामना करना पड़ रहा है।"

टेड्रोस ने ऐसे देशों से अपने टीके अन्य राष्ट्रों को प्रदान करने का आह्वान किया है जिनके पास अतिरिक्त खुराकें उपलब्ध हैं।