ब्लिंकेन – उ.कोरिया पर निर्भर है अमरीका से वार्ता का निर्णय

अमरीकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन के अनुसार यह निर्णय उत्तर कोरिया को लेना होगा कि वह अमरीका के साथ राजनयिक माध्यम से परमाणु निरस्त्रीकरण वार्ता करना चाहता है या नहीं।

ब्लिंकेन ने सोमवार को ब्रिटेन में पत्रकारों से बात की। अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन ने हाल ही में अपनी उत्तर कोरिया नीति की समीक्षा संपन्न की है।

ब्लिंकेन ने कहा कि समीक्षा के दौरान यह विचार किया गया कि अमरीका कोरियाई प्रायद्वीप के पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण के लक्ष्य की दिशा में आगे कैसे बढ़ सकता है।

उन्होंने यह भी कहा कि “नियंत्रित और व्यावहारिक रुख़ का आह्वान करती हमारी मौजूदा नीति के अंतर्गत उत्तर कोरिया के साथ राजनयिक मार्ग तलाशे जाएँगे।”

अमरीका के शीर्ष राजनयिक ब्लिंकेन ने कहा कि “मुझे आशा है कि उत्तर कोरिया राजनयिक वार्ता के इस अवसर का लाभ उठायेगा।”

उन्होंने कहा कि अमरीका न केवल उत्तर कोरिया की बात सुनेगा बल्कि यह भी देखेगा कि वह आगामी दिनों और महीनों में क्या करता है।

ब्लिंकेन ने यह भी कहा कि अमरीका के पास “राजनय पर केन्द्रित एक बेहद स्पष्ट नीति है और यह निर्णय उत्तर कोरिया को लेना होगा कि वह उस नीति के आधार पर वार्ता करना चाहता है या नहीं।”

अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने पिछले सप्ताह अपने नीति भाषण में उत्तर कोरिया के परमाणु विकास कार्यक्रम की निंदा की थी जिस पर उत्तर कोरिया ने तीखी प्रतिक्रिया दी थी।