चीनी विमान वाहक पोत ने किया सैन्याभ्यास

चीन की नौसेना का कहना है कि उसके शान्दोन्ग पोत के नेतृत्व में विमान वाहक पोतों के एक बेड़े ने दक्षिण चीन सागर में सैन्याभ्यास किया है।

पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी की नौसेना के प्रवक्ता गाओ श्यूचेंग ने रविवार को यह घोषणा की।

गाओ ने कहा कि यह वार्षिक कार्य योजना पर आधारित सामान्य अभ्यासों की शृंखला का एक हिस्सा था। उन्होंने कहा कि यह चीन की संप्रभुता की रक्षा करने की नौसेना की क्षमताओं को बढ़ाएगा।

उन्होंने आशा व्यक्त की कि अन्य देश इस सैन्याभ्यास को निष्पक्ष और तर्कसंगत नज़रिये से देखेंगे। उन्होंने कहा कि नौसेना भविष्य में भी ऐसे अभ्यासों का नियमित आयोजन करना जारी रखेगी।

दक्षिण चीन सागर में स्थित द्वीपों को लेकर पड़ोसी देशों के साथ जारी चीन के क्षेत्रीय विवादों के बीच इस सैन्याभ्यास का आयोजन किया गया है।

अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन ने कहा है कि वह चीन के क्षेत्रीय दावों को ग़ैरक़ानूनी मानता है।

वर्तमान में चीनी और अमरीकी विमान वाहक पोत दक्षिण चीन सागर और उसके निकटवर्ती जल क्षेत्रों में तैनात हैं।

अप्रैल में अमरीकी नौसेना ने फ़िलीपीन्स सागर में चीनी विमान वाहक पोत की अपनी निगरानी की तस्वीरें और वीडियो जारी किये थे।

पर्यवेक्षकों का कहना है कि चीन का ताज़ा सैन्याभ्यास क्षेत्रीय मामलों में अमरीका के बढ़ते दख़ल को चुनौती देने का प्रयास हो सकता है।