म्यांमार पहुँचे चीनी टीके

चीन ने अपने कोरोनावायरस टीके की 5 लाख ख़ुराकें म्यांमार को दान की हैं।

म्यांमार के सरकारी टेलीविज़न का कहना है कि टीके की खेप रविवार को देश के सबसे बड़े शहर यान्गोन के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुँची।

यह खेप चीन के विदेश मंत्री वांग यी द्वारा जनवरी में उनके म्यांमार दौरे के दौरान किये गए 3 लाख ख़ुराकों के वादे से अधिक थी।

म्यांमार स्थित चीनी दूतावास ने कहा कि यह टीके दोनों देशों के बीच मित्रता को दर्शाते हैं।

चीन, म्यांमार सेना द्वारा फ़रवरी में किये गए तख़्तापलट के प्रत्युत्तर में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् द्वारा प्रतिबंध लगाये जाने का विरोध करता आया है।

तख़्तापलट का विरोध करने वाले नागरिकों के बीच चीन विरोधी भावनाएँ बढ़ती जा रही हैं।

वादे से बड़ी खेप इन्हीं भावनाओं को शांत करने का प्रयास प्रतीत होती है। इससे सैन्य अधिकारियों को महामारी से लड़ने के अपने प्रयासों को दर्शाने में भी सहायता मिल सकती है।

हालाँकि कुछ पर्यवेक्षक मानते हैं कि इन चीनी टीकों के कारण सैन्य शासन का विरोध करने वाले नागरिक टीकाकरण का बहिष्कार कर सकते हैं।