पुतिन और बाइडन की जून में बैठक संभव

रूस के राष्ट्रपति सहायक का कहना है कि राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और उनके अमरीकी समकक्ष जो बाइडन की जून में आमने-सामने बैठक हो सकती है।

राष्ट्रपति कार्यालय सहायक यूरी उशाकोफ़ ने रविवार को रूस के सरकारी टेलीविज़न पर प्रसारित एक साक्षात्कार में कहा कि शिखर बैठक की तारीख़ों पर भी विचार हो चुका है।

इस घोषणा से एक माह पूर्व बाइडन ने पुतिन से कुछ ही महीनों में किसी तीसरे देश में मिलने का प्रस्ताव दिया था।

रूस के विदेश मंत्री सर्गेइ लावरोफ़ ने कहा कि बाइडन के शिखर बैठक प्रस्ताव को "सकारात्मक" रूप से लिया गया है, जो दर्शाता है कि रूस सरकार बैठक के समय और स्थान के लिए प्रबंध करना जल्द आरंभ कर देगी।

इस बीच, पुतिन ने शुक्रवार को एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर किये जिसके तहत अमैत्रीपूर्ण राष्ट्रों की सूची में नामित देशों के राजनयिक मिशन में कर्मचारियों की संख्या सीमित की जाएगी। रूस सरकार द्वारा तैयार की जा रही उक्त सूची में अमरीका को शामिल किया जाना संभावित है।

प्रतीत होता है कि बैठक के दौरान खुद को लाभप्रद स्थिति में रखने के लिए रूस अमरीका के विरुद्ध सख़्त रुख़ बनाये रखना चाहता है।