ईयू- रक्त में थक्के जमना एक ‘अत्यंत दुर्लभ दुष्प्रभाव’

यूरोपीय संघ औषधि नियामक इस निर्णय पर पहुँचा है कि जॉन्सन एण्ड जॉन्सन के कोरोनावायरस टीके की उत्पाद जानकारी में न्यून रक्त बिम्बाणु वाले रक्त के थक्के जमने को एक "अत्यंत दुर्लभ दुष्प्रभाव" के तौर पर लिखा जाना चाहिए।

अमरीका में 70 लाख से अधिक लोग यह टीका लगवा चुके हैं तथा मस्तिष्क सहित शरीर के अन्य भागों में रक्त के थक्के जमने के आठ मामले सामने आये हैं जिनमें एक मृत्यु का मामला भी शामिल है।

यूरोपीय औषधि एजेंसी यानि ईएमए ने मंगलवार को अपने अध्ययन के नतीजे जारी किये। इसमें कहा गया है कि असामान्य रक्त के थक्कों का संबंध रक्त बिम्बाणुओं के न्यून स्तर से था तथा ये मामले एस्ट्राज़ेनेका के टीके के मामलों की तरह ही हैं।

ईएमए का कहना है कि सभी 8 मामले 60 वर्ष से कम आयु वाले लोगों में टीकाकरण के बाद तीन सप्ताह के भीतर पाये गए जिनमें महिलाओं की बहुतायत थी।

इसका कहना है कि इस दुष्प्रभाव का एक संभावित कारण प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया हो सकती है। लेकिन एजेंसी का कहना है कि कुल मिलाकर कोविड-19 को रोकने में टीके के लाभ इसके दुष्प्रभाव के जोखिम से अधिक हैं।

एजेंसी ने लोगों से कहा है कि टीकाकरण के बाद 3 सप्ताह के भीतर साँस लेने में कठिनाई, सीने में दर्द तथा पैरों में सूजन जैसे लक्षण सामने आने पर तुरंत चिकित्सा सहायता प्राप्त करें।

ईएमए की घोषणा के बाद, जॉन्सन एण्ड जॉन्सन ने एक वक्तव्य जारी कर स्वास्थ्य देखभाल कर्मियों को न्यून रक्त बिम्बाणुओं वाले रक्त के थक्कों के जमने के लक्षणों को एक अत्यंत दुर्लभ दुष्प्रभाव होने के प्रति सावधान किया है।