अमरीकी सेना की वापसी पर काबुलवासियों की प्रतिक्रिया

अफ़ग़ानिस्तान से अपने सभी सैनिकों को 11 सितंबर तक हटाने के अमरीका के निर्णय पर राजधानी काबुल में लोगों की मिली-जुली प्रतिक्रिया देखी गयी।

उम्र के चौथे दशक में चल रहे एक व्यक्ति ने एनएचके को बताया कि अमरीकी सैनिकों की देश में तैनाती से पहले उसे अपने जीवन में कोई समस्या या चिंता नहीं थी। उसने कहा कि यदि देश में लंबे समय से तैनात अमरीकी सेना पूर्णतया हट जाती है तो देशवासी फिर से एकजुट हो कर अपने जीवन में शांति बहाल कर पायेंगे।

उम्र के तीसरे दशक में चल रहे एक अन्य व्यक्ति ने कहा कि अमरीकी सेना की पूर्णतया वापसी के चलते सुरक्षा और अर्थव्यवस्था बिगड़ जाएगी। उसने आशा व्यक्त की कि अमरीकी सैनिक देश में तैनात रहेंगे और सरकार को सैन्य सहायता प्रदान करते रहेंगे।

कई महिलाओं ने तालिबान के दुबारा सर उठाने पर चिंता व्यक्त की।

उम्र के तीसरे दशक में चल रही एक महिला ने कहा कि वह चिंतित है कि यदि सेना की वापसी होती है तो तालिबान का प्रभाव बढ़ सकता है और समाज में महिलाओं की भागीदारी को प्रतिबंधित किया जा सकता है।