अधिग्रहण प्रस्ताव के बाद तोशिबा प्रमुख ने त्यागा पद

जापान की औद्योगिक दिग्गज कंपनी तोशिबा के प्रमुख ने अपना पद त्याग दिया है। ब्रिटेन स्थित निवेश कोष से अधिग्रहण प्रस्ताव मिलने के कुछ दिनों बाद अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी कुरुमातानि नोबुआकि ने अपना इस्तीफ़ा दिया है। ग़ौरतलब है कि उक्त निवेश कंपनी के साथ कुरुमातानि के संबंध थे।

तोशिबा का कहना है कि कुरुमातानि ने बुधवार को हुई मंडल बैठक से पहले अपने इस्तीफ़े का प्रस्ताव रखा। तोशिबा के अनुसार कुरुमातानि ने अमरीका में परमाणु कारोबार में हुए भारी नुकसान से कंपनी को उबारा है।

तोशिबा की नामांकन समिति के अध्यक्ष नागायामा ओसामु का कहना है कि “हमने उनका इस्तीफ़ा स्वीकार कर लिया है क्योंकि जनवरी में तोक्यो शेयर बाज़ार में प्रथम श्रेणी के शेयरों की सूची में कंपनी की वापसी के साथ ही तोशिबा का बहाली कार्य पूरा हो गया है।”

ब्रिटेन स्थित सीवीसी कैपिटल पार्टनर्स ने पिछले सप्ताह 20 अरब डॉलर से अधिक मूल्य का अधिग्रहण प्रस्ताव पेश किया था।
यह इक्विटी कंपनी तोशिबा के निजीकरण के लिए उसके अधिकांश शेयर खरीदना चाहती है जिससे कंपनी का प्रबंधन शेयरधारक कार्यकर्ताओं के प्रभाव से मुक्त हो जाएगा।

कुछ लोगों ने पिछले वर्ष जुलाई में हुई शेयरधारकों की बैठक में कुरुमातानि की पुनर्नियुक्ति का विरोध किया था।

कुरुमातानि सीवीसी के जापान संचालन के प्रमुख रह चुके हैं जिसके चलते इस अधिग्रहण प्रस्ताव के उद्देश्य को लेकर अटकलें लगायी जा रही हैं।

सूत्रों के अनुसार कुरुमातानि के इस्तीफ़े के बावजूद सीवीसी जल्द से जल्द इस सप्ताहांत तक तोशिबा को विस्तृत प्रस्ताव पेश कर देगी।

तोशिबा के पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी त्सुनाकावा सातोशि फिर से कंपनी का शीर्ष पद संभालेंगे। उनके अनुसार तोशिबा के लिए शेयरधारकों के साथ विश्वास का रिश्ता बनाना अहम है।