आव्रजन केन्द्र में श्रीलंकाई महिला की मृत्यु पर रिपोर्ट

जापान की आव्रजन सेवा एजेंसी ने आप्रवासी हिरासत केंद्र में एक श्रीलंकाई महिला की मौत पर अंतरिम रिपोर्ट जारी की है।

आइचि प्रिफ़ैक्चर के नागोया शहर में स्थित नागोया क्षेत्रीय आव्रजन सेवा केन्द्र में करीब एक माह पूर्व इस महिला की मृत्यु हो गयी थी। उसकी आयु 30 से 39 वर्ष के बीच थी।

शुक्रवार को जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि महिला जनवरी 2019 से अपनी वीसा सीमा से अधिक समय से जापान में प्रवास कर रही थी। रिपोर्ट में कहा गया है कि महिला ने पिछले वर्ष अगस्त में पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कर श्रीलंका वापस लौटने की इच्छा जतायी थी, जिसके बाद उसे आव्रजन सेवा केन्द्र द्वारा हिरासत में ले लिया गया था।

रिपोर्ट के अनुसार महिला ने बाद में जापान में ही रहने की इच्छा व्यक्त की थी क्योंकि कोरोनावायरस वैश्विक महामारी के दौरान श्रीलंका जाने वाली उड़ानों की संख्या सीमित हो गयी थी। उसने अस्थायी रिहाई के लिए आवेदन भी किया था।

रिपोर्ट में बताया गया है कि महिला ने जनवरी मध्य में मतली और शरीर सुन्न होने की शिकायत की थी। प्रतिष्ठान और बाहर के कुल चार चिकित्सकों की जाँच में उसे रिफ़्लेक्स इसोफ़ेगाइटिस और मानसिक रोग होने की संभावना सामने आयी जिसके बाद उसका इलाज किया गया।

एजेंसी महिला की मृत्यु के कारण की जाँच कर रही है। स्वतंत्र जाँचकर्ताओं को शामिल कर एजेंसी इस बात की भी पड़ताल करेगी कि प्रतिष्ठान में महिला से उचित व्यवहार किया गया था या नहीं।