प्रतिबंध हटाने व गतिविधियाँ सीमित करने पर अमरीका-ईरान चर्चा

ईरान परमाणु समझौते में शामिल पक्षों ने सहमति व्यक्त की है कि समझौता पुनर्जीवित करने के लिए वे अमरीकी प्रतिबंध हटाने और ईरान का परमाणु कार्यक्रम सीमित करने के तरीकों पर चर्चा करेंगे।

मंगलवार को वियना में आरम्भ बातचीत में मध्यस्थ की भूमिका निभा रहे यूरोपीय संघ के अधिकारियों और अन्य लोगों के साथ अमरीका और ईरान के शिष्टमंडलों ने अलग-अलग बैठकें कीं।

वर्ष 2018 में अमरीका के समझौते से हटने और प्रतिबंध दुबारा लागू करने के बाद पहली बार दोनों देशों के बीच वार्ता बहाली के पूर्ण स्तर पर प्रयास किये जा रहे हैं।

अमरीका के हटने के बाद, ईरान ने समझौते का उल्लंघन करते हुए अपनी यूरेनियम संवर्धन गतिविधियाँ बढ़ा दी थीं। अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडन समझौते में वापसी के इच्छुक हैं।

बैठकों के बाद ईरान के विदेश उप मंत्री अब्बास अराक़चि ने कहा कि बातचीत रचनात्मक रही और वह सही दिशा में जा रही है।

उन्होंने यह भी बताया कि अगली बैठक शुक्रवार को हो सकती है।

व्हाइट हाउस प्रवक्ता जेन साकि का कहना है कि वार्ता कठिन और लंबी चल सकती है। उनके अनुसार प्रशासन का अब भी मानना है कि राजनयिक मार्ग ही आगे बढ़ने का उचित एवं परस्पर हितकारी मार्ग है।