तोकिओ मरीन ने किया संभावित ग्राहक डाटा लीक का ख़ुलासा

जापानी बीमा कंपनियों का कहना है कि एक रैनसमवेयर हमले के बाद उपभोक्ता जानकारी के 60,000 से ज़्यादा दस्तावेज़ लीक हो गये हैं। इसमें प्रमुख ग़ैर-जीवन बीमा कंपनी तोकिओ मरीन और निचिदो फ़ायर इंश्योरेंस तथा दो अन्य समूह कंपनियाँ शामिल हैं।

कंपनियों का कहना है कि उनके द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली एक अकाउंटिंग कंपनी ने जून की शुरुआत में अपने सर्वर में असामान्यता पायी थी। उसने पाया कि कुल लगभग 63,200 दस्तावेज़ों के साथ समझौता किया गया हो सकता है।

जानकारी में ग्राहकों के नाम, पते और फ़ोन नंबर शामिल हैं। कंपनियों का कहना है कि वे उन लोगों की पहचान करने और उन्हें सूचित करने के लिए काम कर रही हैं जिनका डाटा लीक हो सकता है।