बोइंग व नासा - स्टारलाइनर की पृथ्वी पर वापसी में होगी और देरी

अमरीकी एयरोस्पेस दिग्गज कंपनी बोइंग के नये स्टारलाइनर अंतरिक्ष यान में यांत्रिक समस्याओं के कारण, उसके निर्धारित समय से काफ़ी देरी से पृथ्वी पर लौटने की आशंका है।

अमरीकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा और बोइंग ने बुधवार को यह घोषणा की।

जून में दो नासा अंतरिक्ष यात्रियों के साथ उड़ान भरकर स्टारलाइनर, अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन यानि आईएसएस पर पहुँचा था।

शुरू में अंतरिक्ष यान के लगभग एक सप्ताह में चालक दल को पृथ्वी पर वापस लाने की योजना थी, लेकिन उसके थ्रस्टर सिस्टम में पायी गई गड़बड़ियों के कारण वह आईएसएस से ही जुड़ा हुआ है।

नासा और बोइंग ने कहा कि वे वर्तमान में अंतरिक्ष यान की प्रोपल्शन प्रणाली का ज़मीनी परीक्षण कर रहे हैं, और परीक्षण के परिणामों की समीक्षा के बाद वे वापसी की नयी तारीख पर निर्णय लेंगे।

दोनों अंतरिक्ष यात्रियों के बारे में कोई स्वास्थ्य समस्या नहीं बतायी गई है।

स्टारलाइनर परीक्षण उड़ानों के अंतिम चरण में है। अगर नासा से मंज़ूरी मिल जाती है, तो बोइंग के अंतरिक्ष यान का इस्तेमाल अंतरिक्ष यात्रियों को लाने ले-जाने के दूसरे तरीके के रूप में किया जाएगा।