मई का चालू खाता अधिशेष रहा रिकॉर्ड उच्च

जापान के वित्त मंत्रालय का कहना है कि इस वर्ष मई माह के लिए देश का चालू खाता अधिशेष रिकॉर्ड उच्च रहा।

ऐसा विदेश में उच्च ब्याज दरों और कमज़ोर येन के कारण हुआ, जिससे कंपनियों की विदेशी बंधपत्रों से अर्जित आय में बढ़ोतरी हुई।

अधिशेष 28.5 खरब येन यानि 17.7 अरब डॉलर रहा। यह पिछले साल की तुलना में 41 प्रतिशत से अधिक है और 1985 में तुलनात्मक डाटा उपलब्ध होने के बाद से मई महीने के लिए सर्वाधिक है। जापान ने लगातार 16वें महीने अधिशेष दर्ज किया है।

प्राथमिक आय अधिशेष 26 अरब डॉलर रहा, जो किसी भी महीने के लिए रिकॉर्ड उच्च है।

इसमें जापानी व्यवसायों को विदेशी सहायक कंपनियों से प्राप्त लाभांश और बंधपत्रों पर मिला ब्याज भी शामिल है।

मोटरवाहनों और सेमिकंडक्टर विनिर्माण उपकरणों के ज़बरदस्त निर्यात के कारण व्यापार घाटा घटकर 6.9 अरब डॉलर रहा।

सेवा क्षेत्र में 1.4 करोड़ डॉलर का अधिशेष दर्ज किया गया। इस क्षेत्र में 2 महीनों में पहली बार अधिशेष दर्ज किया गया है।

इससे विदेशी पर्यटकों की संख्या में बढ़ोतरी के कारण यात्रा खाते में हुई वृद्धि का पता चलता है।