ओकिनोतोरिशिमा द्वीप के निकट उत्प्लव लगाने पर चीन से नाराज़ जापान

जापान सरकार का कहना है कि चीन ने जून में जापान के धुर दक्षिणी द्वीप के निकट पानी में तैरने वाला चिह्न यानि उत्प्लव लगाया था। माना जाता है कि यह क्षेत्र खुले समुद्र में आता है, लेकिन यह जापान की महाद्वीपीय पट्टी के भीतर स्थित है।

मुख्य कैबिनेट सचिव हायाशि योशिमासा ने शुक्रवार को खेद व्यक्त करते हुए कहा कि चीन ने उत्प्लव का उद्देश्य, योजना या अन्य विवरण बताये बिना ही इसे लगा दिया।

सरकार का कहना है कि चीन के एक समुद्री अनुसंधान जहाज़ ने पिछले महीने प्रशांत महासागर के उस क्षेत्र में यह उत्प्लव लगाया, जो मुख्य पश्चिमी द्वीप शिकोकु के दक्षिण में और धुर दक्षिणी द्वीप ओकिनोतोरिशिमा के निकट स्थित है।

सरकार का कहना है कि जापान ने चीनी जहाज़ की गतिविधियों पर नज़र रखी थी और चीन से कहा था कि वह महाद्वीपीय पट्टी के भीतर, यहाँ तक ​​कि खुले समुद्र में भी, जापान के समुद्री हितों का उल्लंघन न करे।

सरकार ने चीन से उसकी गतिविधियों का उद्देश्य और अन्य विवरण भी पूछे थे, लेकिन यह उत्प्लव बिना किसी स्पष्टीकरण के लगा दिया गया।

हायाशि का कहना है कि जापान ने चीन से अपने स्पष्टीकरण और गतिविधियों में पारदर्शिता लाने को कहा है, क्योंकि चीन की समुद्री गतिविधियों को लेकर विभिन्न चिंताएँ और संदेह पैदा हो चुके हैं।