गाज़ा छोड़ने के नये इज़्रायली फ़रमान से संयुक्त राष्ट्र चिंतित

इज़्रायली सेना ने नवीनतम आदेशों के तहत, दक्षिणी गाज़ा के कुछ हिस्सों से लोगों से चले जाने के लिए कहा है। इन आदेशों पर संयुक्त राष्ट्र ने गहरी चिंता व्यक्त की है।

इज़्रायली सेना ने सोमवार को खान यूनिस, राफ़ा और दक्षिण के अन्य हिस्सों में लोगों को वहाँ से तुरंत चले जाने का आदेश दिया था।

एक नियमित संवाददाता सम्मेलन के दौरान संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता स्टीफ़न दुजारिक ने मंगलवार को कहा कि ये आदेश 117 वर्ग किलोमीटर यानि गाज़ा पट्टी के लगभग एक तिहाई हिस्से पर लागू होते हैं।

उन्होंने कहा कि लगभग ढाई लाख लोगों को पलायन करने पर मजबूर होना पड़ेगा। अक्तूबर में लड़ाई शुरू होने के बाद से यह सबसे बड़ा पलायन होगा, जब निवासियों को उत्तरी गाज़ा छोड़ने का आदेश दिया गया था।

दुजारिक ने कहा, "इतने बड़े पैमाने पर पलायन से नागरिकों की कठिनाइयाँ बढ़ेंगी और मानवीय ज़रूरतें भी बढ़ जाएँगी।"

गाज़ा के लिए संयुक्त राष्ट्र के वरिष्ठ मानवीय एवं पुनर्निर्माण समन्वयक सिग्रिड काग ने मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् की बैठक में बताया कि समूचे गाज़ा में 19 लाख लोग विस्थापित हो चुके हैं।