चीनी महिला की मौत के बाद चीन में जापानी दूतावासों ने झंडे आधे झुकाये

पूर्वी चीन के सूजो में एक जापानी स्कूल बस पर हुए चाकू हमले में हमलावर को रोकने की कोशिश करने वाली चीनी महिला की मौत के बाद चीन में स्थित जापानी दूतावासों ने अपने झंडे आधे झुका दिये हैं।

पेइचिंग स्थित जापानी दूतावास और जियांग्सू प्रांत के सूजो शहर में दूतावास संबंधी मामलों के प्रभारी, शांघाई स्थित जापानी महावाणिज्य दूतावास ने हू यूपिंग की मृत्यु के बाद शुक्रवार को ऐसा किया।

स्कूल बस के आने के बाद स्थानीय बस स्टॉप पर लोगों पर हमला कर रहे व्यक्ति को रोकने के प्रयास में हू को चाकू लग गया था। वे बस कर्मी थीं। हू की हालत गंभीर थी और उनकी मौत से पहले उन्हें अस्पताल ले जाया गया था।

दूतावास ने अपने आधिकारिक वेइबो अकाउंट पर चीनी भाषा में उनकी स्मृति में एक टिप्पणी साझा की।

बचाव प्रयासों के बावजूद हू की दुःखद मौत का उल्लेख करते हुए इस टिप्पणी में गहरा खेद व्यक्त किया गया। इसमें कहा गया है कि उन्होंने पूरी ताकत से निर्दोष महिलाओं और बच्चों को हमलावर से बचाया और दूतावास का मानना ​​है कि उनकी हिम्मत और दयालुता चीनी लोगों की भावना का प्रतिनिधित्व करती है।

टिप्पणी में उनके वीरतापूर्ण कार्य के प्रति सम्मान व्यक्त किया गया तथा उनकी आत्मा की शांति की कामना की गयी।