पूर्वी और पश्चिमी जापान में मूसलाधार वर्षा का अनुमान

पूर्वी और पश्चिमी जापान के व्यापक क्षेत्रों में सोमवार तक अत्यधिक भारी वर्षा का अनुमान है। अधिकारी लोगों से भूस्खलन और बाढ़ के प्रति सतर्क रहने का आह्वान कर रहे हैं।

मौसम विज्ञान एजेंसी के अनुसार मौसमी वर्षा अग्र और निम्न दाब तंत्र की ओर बहने वाली गर्म और नम हवा के कारण वायुमंडलीय परिस्थितियाँ बेहद अस्थिर हो गयी हैं, जिससे भारी वर्षा और वज्रपात का ख़तरा बढ़ गया है।

सोमवार सुबह तक के 24 घंटों में तोकाइ क्षेत्र में अधिकतकम 200 मिलीमीटर, क्यूशू, कान्तो-कोशिन और होकुरिकु क्षेत्रों में 150 मिलीमीटर और चूगोकु क्षेत्र में 100 मिलीमीटर वर्षा हो सकती है।

अधिकारी लोगों से वज्रपात और तेज़ हवाओं के प्रति सतर्क रहने को कह रहे हैं। साथ ही उनकी सलाह है कि यदि वे तूफ़ानी बादल आते देखें तो मज़बूत इमारतों में शरण लेकर अपनी सुरक्षा सुनिश्चित करें।

मौसम अधिकारियों के अनुसार होकुरिकु क्षेत्र में रविवार रात तक वर्षा तेज़ होने की आशंका है। ग़ौरतलब है कि इस क्षेत्र में 1 जनवरी को महाभूकंप आया था।

अधिकारियों का कहना है कि महाभूकंप के बाद इस क्षेत्र की मिट्टी ढीली पड़ चुकी है, इसलिए यहाँ मामूली वर्षा से भी भूस्खलन हो सकता है।