द.कोरिया ने की उ.कोरिया के कचरा गुब्बारों की आलोचना

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति युन सोंग-न्योल ने उत्तर कोरिया द्वारा कचरे वाले गुब्बारे उनके देश में भेजे जाने को लेकर उसकी आलोचना करते हुए कहा,"यह उकसावे की घृणित कार्रवाई है, जिससे किसी भी सामान्य देश को शर्म आएगी"।

युन ने बृहस्पतिवार को सोउल राष्ट्रीय कब्रग़ाह में स्मृति दिवस पर दिये गए भाषण में यह टिप्पणी की। यह दिन युद्ध में मारे गये लोगों को समर्पित है, जिनमें कोरियाई युद्ध में मारे गये लोग भी शामिल हैं।

युन ने कहा, "यहाँ से लगभग 50 किलोमीटर दूर, हमारे देशवासी भुखमरी से पीड़ित हैं तथा उन्हें स्वतंत्रता व मानवाधिकारों से क्रूरतापूर्वक वंचित किया जा रहा है।"

उन्होंने यह भी कहा, "उत्तर कोरियाई शासन इतिहास की प्रगति को स्वीकार करने से इंकार कर रहा है और इसके बजाय पिछड़े रास्ते पर चल रहा है, जिससे हमारे जीवन को ख़तरा है।" उन्होंने कहा कि उनकी सरकार "उत्तर कोरिया से ख़तरे को कभी नजरअंदाज़ नहीं करेगी।"