ब्रिटेन के लिए जासूसी करने के संदेह में पेइचिंग कर रहा चीनी दम्पति की जाँच

चीन के रक्षा मंत्रालय का कहना है कि वह ब्रिटेन के लिए जासूसी करने के संदेह में एक चीनी दम्पति की जाँच कर रहा है। दोनों देशों के बीच कथित जासूसी को लेकर आरोप-प्रत्यारोप की शृंखला में यह नवीनतम मामला है।

मंत्रालय ने सोमवार को ख़ुलासा किया कि इस चीनी पति-पत्नी पर ब्रिटेन की गुप्तचर सेवा एजेंसी, एमआई6 के सहयोग से चीन में जासूसी गतिविधि करने का संदेह है।

वक्तव्य में कहा गया है कि वर्ष 2015 में जब पति ब्रिटेन में पढ़ाई के लिए गया था, तो एमआई6 ने उससे संपर्क किया और चीन सरकार से आंतरिक जानकारी एकत्र करने के लिए उसे भारी रकम देने की पेशकश की।

मंत्रालय ने यह भी कहा कि एमआई6 ने बार-बार उसकी पत्नी से सहयोग माँगा तथा रकम को दुगुना करने का वादा किया।

मंत्रालय ने इस बात पर ज़ोर दिया कि उसने चीन में ब्रिटेन के लिए जासूसी कर रहे महत्त्वपूर्ण सदस्यों का सफ़ाया कर दिया है।

मंत्रालय ने इससे पहले जनवरी में घोषणा की थी कि उसने चीन में एक कंसल्टिंग कंपनी में काम करने वाले विदेशी नागरिक को एमआई6 के लिए जासूसी करते हुए पाया था।

ब्रिटेन के अधिकारियों ने भी चीनी जासूसी गतिविधियों में शामिल लोगों के ख़िलाफ़ अलग-अलग मामलों में आरोप दायर किये हैं।

हॉन्ग-कॉन्ग और अन्य सुरक्षा मुद्दों को लेकर दोनों देशों के बीच मतभेद बढ़ते जा रहे हैं।