2040 तक 'पेरोवस्काइट' सौर सेल का उपयोग शुरू कर सकता है जापान

जापान का उद्योग मंत्रालय, वित्त वर्ष 2040 तक अत्याधुनिक पेरोवस्काइट सौर सेल का उपयोग शुरू करने की योजना बना रहा है। ग़ौरतलब है कि इस प्रौद्योगिकी को विकसित करने के लिए वैश्विक प्रतिस्पर्धा तेज़ हो रही है।

सेल निर्माताओं सहित सरकारी और निजी क्षेत्रों के विशेषज्ञों वाली सलाहकार परिषद् ने लक्ष्य प्राप्ति के लिए रोडमैप तैयार करने हेतु बुधवार को अपनी पहली बैठक की।

परिषद् की बड़े पैमाने पर उत्पादन प्रणाली बनाने और विनिर्माण लागत को कम करने के तरीक़ों पर चर्चा करने की योजना है, ताकि सरकार को शरद ऋतु तक अपनी रणनीति तैयार करने में मदद मिल सके।

पेरोवस्काइट सौर सेल जापान के लिए उपयुक्त माने जाते हैं, क्योंकि वे आयोडीन के यौगिकों से बने होते हैं, जो देश में उपलब्ध है। ये सेल, हल्के और लचीले होते हैं तथा इन्हें इमारतों की दीवारों पर लगाया जा सकता है, जो कि स्थान की कमी होने पर लाभदायक साबित होता है।