किम ने टोही उपग्रह प्रक्षेपण की विफलता स्वीकारी

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने पहली बार स्वीकारा है कि सोमवार को देश के सैन्य टोही उपग्रह का चौथा प्रक्षेपण विफल रहा।

उत्तर कोरिया की सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी के समाचारपत्र रोदोंग सिनमुन ने बुधवार को बताया कि किम ने मंगलवार को रक्षा विज्ञान अकादमी में भाषण दिया। यह अकादमी सैन्य टोही उपग्रह विकसित करती है।

किम ने कथित तौर पर कहा कि सैन्य टोही उपग्रह ले जा रहा रॉकेट बीच हवा में फट गया था। उन्होंने कहा कि पहले चरण के इंजन में गड़बड़ी के कारण रॉकेट को स्वयं नष्ट करने की प्रणाली सक्रिय हो गयी थी।

किम ने ज़ोर देकर कहा कि उत्तर कोरिया के पास सैन्य टोही उपग्रह होना चाहिए, क्योंकि देश को अमरीका की सैन्य गतिविधियों और भड़काऊ हरकतों का मुकाबला करना है।

उन्होंने कहा कि उत्तर कोरिया की रक्षा व प्रतिरोधक क्षमता और मज़बूत करने के साथ-साथ संभावित खतरों से देश की संप्रभुता की रक्षा के लिए उपग्रहों की आवश्यकता है।