महामारी संधि पर मतभेद के बीच डब्ल्यूएचओ की वार्षिक सभा शुरू

विश्व स्वास्थ्य संगठन यानि डब्ल्यूएचओ के सदस्य देश, स्विट्ज़रलैंड में आयोजित अपनी वार्षिक बैठक में वैश्विक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मुद्दों पर चर्चा कर रहे हैं।

यह सभा सोमवार को जिनेवा में शुरू हुई, जिसमें 194 सदस्य देशों के अधिकारीगण उपस्थित थे।

एजेंडा का एक मुख्य विषय, अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य विनियमों को संशोधित करना है, जिनके तहत अंतरराष्ट्रीय स्तर की आपात स्थिति से निपटने हेतु देशों के दायित्व तय किये जाते हैं।

ध्यान इस बात पर भी केंद्रित है कि भावी महामारी की वैश्विक तैयारी सुदृढ़ करने हेतु इस संधि को अपनाने के लिए यह बैठक सहायक सिद्ध होगी या नहीं।

कोविड-19 महामारी से निपट रहे देशों के बीच मतभेदों के मद्देनज़र महामारी संधि का प्रस्ताव रखा गया था। प्रस्तावित संधि में विकासशील देशों को सहायता देने के उपाय शामिल हैं।

वार्ताकारों ने विश्व स्वास्थ्य संगठन की बैठक से पहले इस संधि पर सहमति बनाने की कोशिश की। लेकिन दो साल की वार्ता के बाद भी विकासशील और उन्नत देशों के बीच टीका वितरण और अन्य मुद्दों पर जारी मतभेद के कारण वे ऐसा करने में विफल रहे।

सभा में अधिकारीगण यह चर्चा कर सकते हैं कि संभावित संधि अपनाने हेतु वार्ता को कैसे जारी रखा जाए।