अमरीकी राजदूत ने की जापान-अमरीका गठबंधन की सराहना

जापान में अमरीका के राजदूत रैम इमैनुएल ने ओकिनावा प्रीफ़ैक्चर के धुर पश्चिमी द्वीप योनागुनि की यात्रा के दौरान द्विपक्षीय गठबंधन के महत्त्व पर बल दिया है।

इमैनुएल ने शुक्रवार को योनागुनि के पश्चिमी छोर पर स्थित एक अंतरीप का दौरा किया। ताइवान से लगभग 110 किलोमीटर दूर इस द्वीप का दौरा करने वाले वे पहले अमरीकी राजदूत हैं।

इस दौरे में योनागुनि नगर के महापौर इतोकाज़ु केनइचि, इमैनुएल के साथ थे। इतोकाज़ु ने इमैनुएल को बताया कि यदि मौसम और अन्य परिस्थितियाँ अनुकूल हों तो अंतरीप से ताइवान को देखा जा सकता है।

पत्रकारों से बात करते हुए इमैनुएल ने कहा, "प्रतिरोध की विश्वसनीयता यह सुनिश्चित करने का सबसे अच्छा तरीका है कि आपके बीच कभी युद्ध न हो।" उन्होंने जोड़ा कि पूरे जापान की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सैन्याभ्यास आयोजित किये जाते हैं।

राजदूत ने इसके बाद शहर में एक मत्स्य सहकारी संघ का दौरा किया। मछुआरों ने उन्हें बताया कि अगस्त 2022 में सैन्याभ्यास के दौरान चीन द्वारा दाग़ी गयी बैलिस्टिक मिसाइलों के ओकिनावा के पास जापान के अनन्य आर्थिक क्षेत्र में गिरने के बाद वे लगभग एक सप्ताह तक मछली नहीं पकड़ पाये थे।

इमैनुएल ने संवाददाताओं से कहा कि एक तरफ़ चीन ने जापानी समुद्री उत्पादों के आयात पर प्रतिबंध लगा दिया है, लेकिन दूसरी तरफ़ चीनी नौकाएँ जापान के निकट समुद्र में अब भी मछली पकड़ रही हैं। उन्होंने कहा, "यह चीन का पाखंड है क्योंकि चीन की कथनी और करनी में गहरा विरोधाभास है।"

बाद में, इमानुएल ने ओकिनावा के एक अन्य द्वीप इशिगाकि का दौरा किया, जहाँ उन्होंने जापान के थल आत्मरक्षा बल की छावनी और जापान तट रक्षक के गश्ती जहाज़ का निरीक्षण किया।