जापान में मिले डॉल्फ़िन अवशेषों का संबंध, दुनिया की सबसे पुरानी नव प्रजाति से

पूर्वी जापान के गुम्मा प्रीफ़ैक्चर स्थित प्राकृतिक इतिहास संग्रहालय का कहना है कि उसके पास मौजूद डॉल्फ़िन के जीवाश्म, यांग्त्सी नदी की डॉल्फ़िन की एक नयी प्रजाति के हैं। संग्रहालय के अनुसार यह दुनिया में अपनी तरह की सबसे पुरानी प्रजाति है।

ये अवशेष 1999 में गुम्मा प्रीफ़ैक्चर के आन्नाका शहर में उसुइ नदी के किनारे पर एक भूगर्भीय परत में मिले थे। यह परत लगभग 1.1 करोड़ वर्ष पुरानी है। ये अवशेष डॉल्फ़िन के कान और उसके सिर के ऊपरी हिस्से के हैं।

पड़ोसी प्रीफ़ैक्चर तोचिगि में समान मुखाकृति वाली डॉल्फ़िन के सिर के अवशेषों की खोज से प्रेरित होकर, संग्रहालय ने इन दोनों अवशेषों की जाँच करने का फ़ैसला किया, जिसके बाद निष्कर्ष निकाला गया कि संग्रहालय के पास मौजूद अवशेष यांग्त्सी नदी की डॉल्फ़िन की एक नयी प्रजाति के हैं। डॉलफ़िन के मुख के पीछे की हड्डी में एक ख़ास खरोंच और अन्य विशेषताओं को देखते हुए यह निष्कर्ष निकाला गया।

संग्रहालय ने यह भी पाया कि आन्नाका में मिले अवशेष दुनिया में इस प्रजाति की डॉलफ़िन के सबसे पुराने अवशेष हैं।

शोधकर्ताओं के अनुसार यह नयी खोज डॉल्फ़िन की उत्पत्ति और विकास पर प्रकाश डालने में सहायक होगी।

ये अवशेष शनिवार से जून के अंत तक संग्रहालय में प्रदर्शित किये जाएँगे।