अपहरण मुद्दे पर किम से बातचीत के प्रयासों में तेज़ी लायेंगे किशिदा

जापान के प्रधानमंत्री किशिदा फ़ुमिओ ने उत्तर कोरिया द्वारा अपहृत सभी जापानी नागरिकों की स्वदेश वापसी के लिए उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के साथ शिखर बैठक आयोजित करने के प्रयासों में तेज़ी लाने का संकल्प लिया है।

शनिवार को तोक्यो में अपहृतों के परिजनों की एक रैली को संबोधित करते हुए किशिदा ने कहा कि अपहरण का मुद्दा एक अत्यावश्यक मानवीय मामला है, जिसे सुलझाने के लिए बहुत कम समय बचा है, क्योंकि कई परिजनों की उम्र बढ़ती जा रही है।

उन्होंने कहा कि सरकार अपहृतों की यथाशीघ्र स्वदेश वापसी के हर संभव प्रयास करेगी।

किशिदा ने स्थिति में बड़े बदलाव की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि शीर्ष नेताओं को ऐसे संबंध बनाने चाहिए जो उन्हें कठिन मुद्दों से निपटने के लिए खुलकर बात करने की आज़ादी दें।

उन्होंने कहा कि वे बिना किसी शर्त के किम से कभी भी मिलने के लिए तैयार हैं।

प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि वे शिखर सम्मेलन का मार्ग प्रशस्त करने के उद्देश्य से अपनी देखरेख में उच्च स्तरीय वार्ता को आगे बढ़ाने के लिए विभिन्न माध्यमों से प्रयास तेज़ करेंगे।

उन्होंने यह भी कहा कि वे उत्तर कोरियाई नेता से आग्रह करना चाहते हैं कि वे व्यापक परिप्रेक्ष्य से सोचें, बाधाएँ दूर करें और साथ मिलकर निर्णय लें।