एमएसडीएफ़ पोत के संदिग्ध वीडियो पर रक्षा मंत्री की प्रतिक्रिया

जापान के रक्षा मंत्री किहारा मिनोरु का कहना है कि वे आत्मरक्षा बल यानि एसडीएफ़ की सुविधाओं की सुरक्षा क्षमता मज़बूत करेंगे। जापान स्थित एक अड्डे पर खड़े समुद्री आत्मरक्षा बल यानि एमएसडीएफ़ के जहाज़ का ड्रोन से लिया गया वीडियो ऑनलाइन पोस्ट किया गया था, जिसके बाद रक्षा मंत्री का यह बयान सामने आया है। यह वीडियो असल मालूम पड़ता है।

यह फ़ुटेज मार्च में एक चीनी वीडियो-शेयरिंग वेबसाइट और अन्य सोशल मीडिया पर डाली गयी थी। इसमें कथित रूप से विध्वंसक पोत इज़ुमो को तोक्यो के दक्षिण में योकोसुका शहर स्थित एमएसडीएफ़ के अड्डे पर खड़ा देखा जा सकता है।

रक्षा मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को बताया कि वीडियो का विश्लेषण किया गया और इसे पूरी तरह से प्रामाणिक माना जा सकता है।

आत्मरक्षा बल के अड्डों के पास या उनके ऊपर मानवरहित विमानों की अनधिकृत उड़ानें ग़ैर-क़ानूनी हैं।

शुक्रवार को पत्रकारों से बात करते हुए किहारा ने कहा कि मंत्रालय इस तरह की घुसपैठ रोकने के लिए अत्याधुनिक उपकरण लगाने के प्रयासों में तेज़ी लायेगा। उन्होंने मिसाल देते हुए कहा कि क़ानून के तहत जैमिंग उपकरण इस्तेमाल कर ऐसे विमानों की जबरन लैंडिंग करवाने जैसे उपायों के माध्यम से एसडीएफ़ सुविधाओं की सुरक्षा क्षमता में इज़ाफ़ा होगा।