द.कोरियाई राष्ट्रपति देंगे जापान के साथ द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति युन सोंग न्योल ने बृहस्पतिवार को जापान के साथ बेहतर संबंधों को बढ़ावा देने की अपनी मंशा पर ज़ोर दिया।

युन ने अपने कार्यकाल के दो वर्ष पूरे होने से एक दिन पहले आयोजित संवाददाता सम्मेलन में द्विपक्षीय संबंधों का उल्लेख किया।

उन्होंने कहा कि दोनों देशों को हर जतन करते हुए सही दिशा में आगे बढ़ना चाहिए और स्वीकार करना चाहिए कि विभिन्न लंबित मुद्दे और इतिहास इसमें बाधा उत्पन्न कर सकते हैं।

युन ने कहा कि वे और जापान के प्रधानमंत्री किशिदा फ़ुमिओ एक-दूसरे पर विश्वास करते हैं और वे द्विपक्षीय संबंधों को बेहतर बनाना चाहते हैं।

दक्षिण कोरिया के विपक्ष ने पिछले महीने हुए आम चुनाव में अपना बहुमत बरक़रार रखा है। कुछ लोगों का कहना है कि इससे संसद में जापान के प्रति देश की नीति में बदलाव की माँग प्रबल हो सकती है।

युन ने यह भी कहा कि दक्षिण कोरिया की कम प्रजनन दर को राष्ट्रीय आपात स्थिति माना जा सकता है तथा उन्होंने इस मुद्दे से निपटने के लिए एक नया मंत्रालय बनाने की योजना की घोषणा की।

इस संवाददाता सम्मेलन से पहले युन ने अगस्त 2022 में अपने कार्यकाल के 100 दिन पूरे होने के उपलक्ष्य में संवाददाता सम्मेलन आयोजित किया था।

कुछ पर्यवेक्षकों ने पिछले महीने सत्तारूढ़ पार्टी की करारी हार के लिए युन की तानाशाही शासन शैली को ज़िम्मेदार ठहराया है।

युन, संभवतः बृहस्पतिवार के इस संवाददाता सम्मेलन को अपनी सरकार की योजनाओं को जनता के समक्ष प्रस्तुत करने के अवसर के रूप में देख रहे थे।