जापान - विध्वंसक का ऑनलाइन वीडियो संभवतः प्रामाणिक

जापान के रक्षा मंत्रालय ने अपने विध्वंसक पोत के सोशल मीडिया पर जारी वीडियो का ज़िक्र करते हुए उसकी प्रामाणिकता की संभावना जतायी है। इस वीडियो को कथित तौर ड्रोन द्वारा लिया गया था।

क़रीब 20 सेकंड का यह फ़ुटेज, मार्च अंत में ऑनलाइन जारी किया गया था। दावा किया जा रहा है कि इसे इज़ुमो विध्वंसक पोत के ऊपर उड़ रहे ड्रोन ने लिया है। यह पोत, तोक्यो के पास समुद्री आत्मरक्षा बल यानि एमएसडीएफ़ के अड्डे पर तैनात है।

प्रतीत होता है कि ड्रोन ने पोत के पीछे से आते हुए डेक के ऊपर से उड़ान भरी। फ़ुटेज में चीनी वीडियो शेयरिंग वेबसाइट बिलिबिली का नाम देखा जा सकता है।

बिना अनुमति के एमएसडीएफ़ अड्डों पर ड्रोन उड़ाना क़ानून द्वारा प्रतिबंधित है।

रक्षा मंत्रालय ने यह पता लगाने के लिए वीडियो का विश्लेषण किया कि कहीं वह फ़र्ज़ी या संशोधित तो नहीं है। मंत्रालय के सूत्रों का कहना है कि विश्लेषण से पता चला है कि इस बात की पूरी संभावना है कि फ़ुटेज प्रामाणिक है।

मंत्रालय कथित तौर पर वीडियो की आगे जाँच करने की योजना बना रहा है ताकि पता लगाया जा सके कि इसे कैसे फ़िल्माया गया।