जापान के क्लाउड कंप्यूटिंग प्रदाताओं का ध्यान, 'डाटा संप्रभुता' पर

जापान में क्लाउड कंप्यूटिंग प्रदाता कंपनियाँ, ग्राहकों की बेहतर डाटा सुरक्षा की माँग की पूर्ति हेतु "डाटा संप्रभुता" सेवाएँ प्रदान कर रही हैं।

डाटा संप्रभुता से तात्पर्य है कि सूचना को देश की सीमाओं के भीतर रखकर, स्थानीय क़ानूनों एवं विनियमों के तहत उसकी सुरक्षा की जाएगी। यूरोपीय संघ यानि ईयू और कई अन्य देश डाटा सुरक्षा में सुधार हेतु ऐसी प्रक्रियाएँ अपना रहे हैं।

फ़ुजित्सु, अमरीकी आईटी दिग्गज कंपनी, ओरेकल के साथ मिलकर वित्त वर्ष 2025 में ऐसी क्लाउड कंप्यूटिंग सेवा शुरू करेगी जिसके तहत डाटा का स्थानांतरण और भंडारण जापान के भीतर ही होगा।

अधिकारियों का कहना है कि इस समझौते के तहत फ़ुजित्सु के स्थानीय डाटा केंद्रों का उपयोग किया जाएगा और कोई भी जानकारी विदेश नहीं भेजी जाएगी।

इससे संबंधित एक घटनाक्रम में, एनईसी और एनटीटी जैसी कंपनियाँ, जनरेटिव एआई का इस्तेमाल कर जापानी कंपनियों को सेवा प्रदान कर रही हैं। इसमें डाटा सेंटर का उपयोग नहीं किया जाता, बल्कि उपयोगकर्ता-कंपनियों के सर्वर ही डाटा को प्रोसेस करने के काम आते हैं।

प्रदाता कंपनियों का कहना है कि इस सेवा में डाटा प्रसंस्करण क्षमता सीमित है, लेकिन यह डाटा के आंतरिक भंडारण और संचरण संबंधी सुरक्षा आवश्यकताओं को पूरा करती है।